अब चोरी की बारदात होने पर चौकी इंचार्ज व बीट आरक्षी पर गिरेगी गाज

अब चोरी की बारदात होने पर चौकी इंचार्ज व बीट आरक्षी पर गिरेगी गाज

फर्रूखाबाद। पुलिस निष्क्रियता के कारण आये दिन होने वाली चोरी की घटनाओं को रोकने के लिये पुलिस प्रशासन ने कार्रवाई के लिये जिम्मेदारी तय कर दी है। पुलिस अधीक्षक राजेश कृष्ण ने आज पुलिस लाइन के सभागार में सैनिक सम्मेलन एवं मासिक अपराध गोष्ठी आयोजित की। सम्मेलन में कर्मचारियों व थाना प्रभारियों द्वारा प्रस्तुत की गई समस्याओं के प्रति त्वरित निस्तारण हेतु निर्देश दिये गये। थाना प्रभारियों को हिदायत दी गई कि वह प्रतिमाह थाने पर सम्मेलन का आयोजन कर कर्मचारियों की समस्याओं का निस्तारण करे। सभी क्षेत्राधिकारियों को अवगत कराया गया कि वह सम्मेलन में स्वंय मौजूद रहकर कार्रवाई कराये।

पुलिस अधीक्षक ने चोरी वाहन चोरी की घटनाओं पर नाराजगी जाहिर करते हुये थाना प्रभारियों को इन घटनाओं का शतप्रतिशत अनावरण कर चोरी गई पूरी सम्पत्ति को बरामद करने की हिदायत दी। एैसी घटनाओं की प्रभारी रोकथाम के लिये पुलिस गश्त व्यवस्था सुनिश्चत करने को कहा गया। पुलिस अधीक्षक ने चोरी की घटनाओं के लिये जिम्मेदारी तय कर दी है। अब चोरी की घटना होने पर हलका इंचार्ज व क्षेत्र के बीट आरक्षी को व्यक्तिगत उत्तरदायी मानकर उनके विरूद्ध कडी कार्रवाई करने को कहा गया। क्षेत्राधिकारियों को कानपुर जोन के आईजी के द्वारा दिये गये लक्ष्य के अनुरूप गम्भीरता से प्रयास कर प्रभावी कार्रवाई हेतु निर्देश दिये गये।

पुलिस अधीक्षक ने मार्च 2016 में सराहानीय कार्य करने वाले 12 पुलिस कर्मियों को नकद धनराशि से पुरस्कृत किया है। थाना कंपिल क्षेत्र में लूट का ट्रैक्टर बरामद करने के मामले में स्वाट टीम प्रभारी ब्रजेश यादव, सर्विलांस सैल प्रभारी सत्येन्द्र यादव, सिपाही रामनरेश, हिम्मत सिंह, विमलेश कुमार, अमित कुमार तथा मोहम्मदाबाद कोतवाली क्षेत्र में लूटा गया ट्रैक्टर बरामद करवाने आदि के गुडवर्क में सिपाही सत्यवीर सिंह, देवेन्द्र सिंह, सुबोध कुमार, शिवप्रताप सिंह, मेहरवान सिंह एवं राजेपुर की घटना में पुरस्कृत होने वाले सिपाही उदयवीर शामिल है।

About Author

Related Articles