मुख्यमंत्री योगी बोले : फर्रूखाबाद में पर्यटन की है काफी सम्भावनाये

 

फर्रूखाबाद। सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आवास विकास कालोनी स्थित समारोह में बौद्ध, सनातन हिन्दू पौराणिक स्थलों पर चर्चा करते हुये कहा कि यहां पर्यटन की काफी सम्भावनाये है। विकास सम्बंधी सरकारी योजनाओं को आगे बढाने में अधिकारियों के अलावा सांसद विधायक की भी सहयोग करने की जिम्मेदारी है। जो लक्ष्य को हर हालत में पूरा करवाये। उन्होने कहा कि अभी तक फर्रूखाबाद को अनेकों सरकारों में उपेक्षित रखा। जिसका प्रमाण है कि यहां के किसानों के साथ ही सामान्य लोगों को भी बिजली व पानी के हक से वंचित किया गया। भाजपा सरकार ने अम्बेडकर सामाजिक विसमता के खिलाफ अभियान की तरह प्रदेश के सभी जिलों को 18 से 24 घंटे बिजली उपलब्ध करा रही है।

सदर विधायक मेजर सुनीलदत्त द्विवेदी एवं विधायक नागेन्द्र सिंह राठौर पूरे कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री योगी के आस पास ही देखे जाने के कारण उनका जलवा रहा। मौका मिलते ही दोनों विधायकों ने समस्याओं सम्बंधी मुख्यमंत्री को मांग पत्र देकर वार्ता की।

कमजोर फीडरों की युद्ध स्तर पर मरम्मत की जा रही है। पश्चिमी प्रदेश में पूर्व में घोषित किये गये डार्क जोन को उभार कर किसानों का नलकूप के कनेक्शन दिये जा रहे है। यहां के सांसद व विधायकों ने आलू फसल का बाजिव दाम न मिलने की शिकायत की थी। केन्द्र सरकार के सहयोग से भावंतर योजना लागू कर आलू का समर्थन मूल्य घोषित करके किसानों को लाभ पहुंचाया गया। यहां फ्रूड प्रोशेशिंग यूनिट लगनी चाहिए। पूर्व की सरकारे स्वंय समस्या होने के साथ प्राइवेट लिमिटेड की तरह चलती थी। जिसमे जनता को शोषण किया जाता था।

श्री योगी ने कहा कि हमने किसानों का कर्ज माफ कर उनकी सहायता की है। अब देढ गुना मूल्य दिया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोई भी गरीब व्यक्ति भूख से न मरे। इसके लिये राशन कार्ड दिये जाये। विधवा व दिव्यांग लाभार्थियों का चयन कर उन्हे पेंशन हर हालत में मिलनी चाहिए। इस दौरान श्री योगी ने बटन दबाकर जिले की 3.27 करोड की लागत बाली योजनाओं का लोकार्पण किया तथा अनेकों सरकारी योजनाओं के लाभार्थियों को सम्मानित किया।

इससे पूर्व मुख्यमंत्री ने लोहिया अस्पताल का भ्रमण कर आवश्यक निर्देश दिये। मुख्य चिकित्साधीक्षक एवं फीजिशयन डा0 अशोक कुमार ने मुख्यमंत्री को बताया कि अस्पताल में 29 की अपेक्षा 13 ही डाक्टर है। मुख्यमंत्री ने इमरजेंसी बार्ड के 3 मरीजों का हाल पूछकर फल भेट किये। राधा नामक वृद्धा ने आबाज दिये जाने की फरियाद की। इससे पूर्व मुख्यमंत्री ने ब्रह्मदत्त द्विवेदी स्टेडियम में वृक्षारोपण कर सरकारी योजनाओं का प्रचार करने वाले करीब आधा सैकडा वाहनों को रवाना किया। मुख्यमंत्री ने कलेक्ट्रेट में अधिकारियों के साथ विकास कार्यो की समीक्षा कर आवश्यक निर्देश दिये। बताया जाता है कि मुख्यमंत्री विकास कार्य से संतुष्ट नही हुये। जिसके कारण अधिकारियों के चेहरे उतरे देखे गये।

सोशल मीडिया पर शेयर करे ||
अन्य खबरें