जीप पलटने से दरोगा व जवान घायलः डॉक्टर को मार डालने की धमकी, ड्राइवर से ठगी

फर्रुखाबाद। कोतवाली फर्रुखाबाद की जीप बीती रात दुर्घटनाग्रस्त हो जाने से दरोगा व जवान घायल हो गए। दरोगा रामकेश यादव पीआरडी जवान शिवेंद्र कुमार के साथ बीती मध्य रात के समय आईटीआई चौकी क्षेत्र में गश्त कर रहे थे। जीव को दरोगा रामकेश चला रहे थे जब वह दरोगा रात 12.15 बजे ग्राम गढ़िया मार्ग से ढिलावल चौराहे की ओर जा रहे थे तभी जीप खाई में चली गई। हादसे में दरोगा व जवान घायल हो गए। गंभीर रूप से घायल जबान शिवेंद्र कुमार को सिटी अस्पताल में भर्ती कराया गया।

दरोगा रामकेश ने प्राइवेट उपचार करा कर एक्स-रे भी कराया। सेकंड मोबाइल पर ड्राइवर दिनेश त्रिपाठी की नियुक्ति है| श्री त्रिपाठी हादसे के समय अपने आवास पर मौजूद थे| श्री त्रिपाठी ने बताया की दुर्घटना में जीप को मामूली क्षति पहुंची है। मिस्त्री से जीप की मरम्मत कराई जा रही है। साफ्ट निकल जाने के कारण स्टेरिंग फेल हो गया था जिसके कारण जीप अनियंत्रित होकर गड्ढे में चली गई।

डा0 द्विवेदी को मार डालने की धमकी

आवास विकास कॉलोनी स्थित द केयर हॉस्पिटल के डॉक्टर केएम द्विवेदी को जान से मार डालने की धमकी दी गई। श्री द्विवेदी ने बंटी यादव नामक युवक के विरुद्ध रिपोर्ट दर्ज कराई है। रिपोर्ट के मुताबिक द्विवेदी लोहिया अस्पताल के सामने अस्पताल में रहते हैं बंटी ने परसों रात 3.18 बज डा0 द्विवेदी को फोन कर अपने बीमार पिता को देखने को कहा डा0 द्विवेदी ने बंटी से करीब 15 मिनट तक वार्ता की। इसी दौरान बंटी ने पिता को न देखने पर डा0 द्विवेदी को जान से मारने की धमकी देते हुए कहा कि तुम्हारा हॉस्पिटल नहीं चलने देंगे। द्विवेदी ने दर्ज कराई रिपोर्ट में पुलिस से रक्षा किए जाने की फरियाद की है।

ट्रक मालिक के साथ ठगी

मध्य प्रदेश के जनपद ग्वालियर थाना जनकगंज की श्रीराम विहार कॉलोनी एबी रोड गोला पहाडिया निवासी ट्रक मालिक अमर सिंह ने सिंटू यादव के विरुद्ध धोखाधड़ी की रिपोर्ट दर्ज कराई है। बीते दिनों अमर सिंह का ट्रक बिना कागज ओवरलोडिंग एवं नो एंट्री में बंद हो गया था अमर सिंह ट्रक को देखने आईटीआई चौकी पहुंचे। चौकी के बाहर मिले सिंटू यादव ने कहा कि हमने ही तुम्हारा ट्रक बंद किया है मुझे 50 हजार दो तो यहीं से तुम्हारा ट्रक छोड़ देंगे।

अमर सिंह ने अपने कई साथियों के साथ सिंटू को 40 हजार रुपये दे दिए और रिलीज आंर्डर देने को कहा तो सिंटू ने कहा इंस्पेक्टर माइंस आईटीआई चौराहे पर खड़े हैं हम अभी रिलीज ऑर्डर लाकर देते हैं। जाते समय सिंटू ने अमर सिंह को अपना व इंस्पेक्टर माइंस का फोन नंबर भी दिया। जब काफी देर तक सिंटू नहीं आया तो अमर सिंह ने फोन किया तो पहले सिंटू ने अभी आ रहे हैं की बात की और बाद में गाली गलौज किया। तब अमर सिंह को पता चला कि ठगी के शिकार हो गए हैं।

युवती ने फांसी लगायी

पूनम पुत्री स्वर्गीय रमेश बाथम निवासी थाना कमालगंज के मोहल्ला गांधीनगर भटपुरा निवासी स्वर्गीय रमेश बाथम की 18 वर्षीय पुत्री पूनम ने अपने घर के अंदर कमरे की छत के कुंडे से दुपट्टे से फांसी लगा ली। भाई महेश ने पुलिस को सूचना दी। घटना के समय मां घर पर थी परिजन वाहर हए थे। एसओ प्रदीप सिंह ने मामले की जांच की। चौकी इंचार्ज बनी सिंह ने शव का पंचनामा भरा।

सोशल मीडिया पर शेयर करे ||
अन्य खबरें