आवश्यक सूचना * एफबीडी न्यूज के पाठकों सूचित किया जाता है कि यदि उनकों किसी भी समाचार के सम्बंध में कोई आपत्ति अथवा सुझाव हो तो वह फोन नम्बर- 9415167404 व 8840944487 पर तुरंत ही दर्ज कराये अथवा fbdanandbhan@gmail.com पर मेल करे। *     *कायमगंज नगर क्षेत्र की खबरों व विज्ञापनों के लिए अनुराग सिंह गंगवार से संपर्क करें. फोन नंबर 6386 6056 20*
[wonderplugin_slider id=3]





पिटने वाले भाजपाई डाक्टर ने फर्जी लूट की घटना छिपाईः 3 गिरफ्तार, 2 दिन का रिमांड

फर्रुखाबाद। बीते दिन गांधी संकल्प यात्रा के दौरान पिटने वाले भाजपा नेता डा0 विनोद अग्निहोत्री ने जान से मारने के अलावा लूट की रिपोर्ट दर्ज करने के लिए तहरीर दी थी। पुलिस का दबाव पड़ने पर विनोद ने करीब 8 घंटे बाद दूसरी दी गई तहरीर में फर्जी लूट की घटना छिपा ली और घटना की सूचना पुलिस को 8 घंटे बाद दी। विनोद के साथ टाउन हाल तिराहे पर दिन के 12.50 बजे घटना हुईं।

जिसकी सूचना उन्होंने रात 8.34 बजे थाने में दी। पुलिस ने विनोद की ओर से मोहल्ला रकाबगंज खुर्द निवासी दीपक उर्फ पप्पी, उसके पुत्र मोहित व शिवम, दीपक के भाई सुशील उर्फ गुड्डू, अनिल,एवं विकास पुत्र रामेश्वर तथा जितेंद्र पुत्र रामचंद्र के विरुद्ध धारा 307 आदि में मुकदमा दर्ज कर लिया। मुकदमे की जांच बजरिया चौकीदार जयप्रकाश शर्मा को सौंपी गई।

पुलिस ने घटना के बाद दीपक उसके पुत्र मोहित एवं शिवम को पकड़ लिया था जिनका आज चालान किया गया। अदालत ने आरोपियों को मात्र 2 दिन के लिए न्यायिक हिरासत में जेल भेजा है जबकि सामान्य तौर पर आरोपी को 14 दिन के लिए जेल भेजा जाता है। घटना के मुताबिक विनोद अपने साथी के साथ बाइक द्वारा बबलू शाक्य बाली काफी पतली गली से होकर टाउनहाल की ओर जा रहे थे।

पतली गली में एक बाइक सवार का भी निकलना मुश्किल होता है जब विनोद गली के बीच में थे तभी टाउनहाल की ओर से दूधवाले गुड्डू बाइक को लेकर आ गए। दोनों लोगों में पीछे हटने को लेकर विवाद हुआ इसी दौरान विनोद के साथी ने गुड्डू के थप्पड़ मार दिया और उसकी बाइक की चाबी निकाल ली।

झगड़ा होने की जानकारी मिलते ही गुड्डू के परिजन भी वहां पहुंच गए जिन्होंने विनोद व उसके साथी की गली में ही पिटाई की। बबलू शाक्य के भाई अशोक शाक्य ने विनोद व उनके साथी को अपने छोटे भाई सुनील शाक्य के घर में ले जाकर बचाया। विनोद चौक बाजार के निकट नेहा नर्सिंग होम के संचालक हैं अशोक विनोद को जानता था इसीलिए उसने विनोद को पीटने से बचाया।

रिपोर्ट के मुताबिक विनोद को अशोक शाक्य के अलावा मोहल्ला कटरा बूअली निवासी अजय पाल एवं डिग्गी ताल निवासी अमित कुमार पुत्र रामकिशोर ने बचाया। मुल्जिमानों के द्वारा गला दबाने से विनोद की सांस अवरोधित हो गई थी उन्हें लग रहा था कि जान निकल जाएगी। लगता है कि विनोद ने दूसरी तहरीर किसी अधिवक्ता की राय से लिखी।
घटना के बाद नगर के मोहल्ला गंगा नगर कॉलोनी निवासी विनोद अग्निहोत्री पुत्र रामनरेश ने लूट की रिपोर्ट दर्ज कराने के लिए थाने में तहरीर दी थी। तहरीर के मुताबिक विनोद भारतीय जनता पार्टी के नगर उपाध्यक्ष है वह यात्रा में पीछे रह जाने के कारण बाइक से टाउन हाल जाने की जल्दबाजी में मोहल्ला रकाबगंज खुर्द की गली में घुसे।

विनोद ने रास्ते में खड़ी बाइक हटाने को कहा तो बाइक मिस्त्री पप्पी एवं उसके बेटे मोहित ने कहा कि यह हमारा इलाका है यहां कोई बाइक नहीं हटती। विनोद ने गाली दिए जाने का विरोध किया तो पप्पी के परिजन सुशील पाल उर्फ गुड्डू, विकास पाल, शिवम पाल व तीन चार-लोग विनोद पर हमलावर हो गए।

जिन्होंने विनोद को बाइक से खींच लिया और लात घूसों से मारने लगे। विनोद को उसके साथी सचिन दीक्षित ने बचाने का प्रयास किया तो हमलावर विनोद को खींचकर अपने घर के अंदर ले गए। वहां गुड्डू ने कहा यह बहुत बोलता है इसका काम तमाम कर दो, विकास व मोहित ने विनोद की बांह पकड़ ली और पप्पी जान से मार डालने के लिए विनोद का गला का गला दबाने लगा।

सचिन के शोर मचाने पर विनोद को छोड़ दिया गया इसी दौरान पप्पी ने विनोद के गले से ढाई तोला वजनी सोने की जंजीर तोड़ तोड़ ली और विनोद का मोबाइल लूटने का प्रयास किया गया। छीना झपटी में नीचे गिर जाने से विनोद का 23 हजार रुपये कीमती मोबाइल टूट गया।

विनोद ने ने आरोप लगाया कि मुझे 15 मिनट तक बंधक रखा गया टाउनहाल की ओर से आए लोगों ने चार हमलावरों को पकड लिया।