गंगा में नरेंद्र का शव मिलाः वृद्ध पर बालिका के यौन शोषण का आरोप, युवती ने ससुराल वालों को हत्यारोपी बनाया

गंगा में नरेंद्र का शव मिलाः वृद्ध पर बालिका के यौन शोषण का आरोप, युवती ने ससुराल वालों को हत्यारोपी बनाया

फर्रुखाबाद। गंगा नदी में आज थाना कमालगंज के ग्राम गोपालपुर निवासी रामतीर्थ राजपूत के 28 वर्षीय पुत्र नरेंद्र का शव मिल गया। नरेंद्र का शव ग्राम कुंडरी खारे एवं नौसारा के बीच गंगापार की ओर किनारे पड़ा था गांव वालों की सूचना पर परिजनों ने नरेंद्र को पहचाना। खुदागंज चौकी इंचार्ज उदय वीर शव का पंचनामा भरा नरेंद्र 29 नवंबर को परिवारी चाचा महेंद्र के दाह संस्कार में कुडरी खारे घाट पर गया था। गंगा नहाते समय डूब जाने के बाद उसको परिजन रोज तलाश कर रहे थे।

वृद्ध पर बालिका के यौन उत्पीड़न का आरोप

कोतवाली फर्रुखाबाद के मोहल्ला नुनहाई स्थित लाला विशंभर दयाल धर्मशाला के किराएदार रामसेवक ने रमेश बाथम के विरुद्ध 8 वर्षीय पुत्री के साथ छेड़खानी की रिपोर्ट दर्ज कराई है। थाना कंपिल के ग्राम कटिया निवासी रामसेवक धर्मशाला में 450 रुपये महीने किराए पर 10 वर्षीय पुत्र अर्जुन 8 वर्षीय व 5 वर्षीय बालिका के साथ रहता है।

रामसेवक ने बताया कि मैं रिक्शा चलाकर गुजारा करता हूं बीती रात बेटे अर्जुन के साथ होटल से खाना लेकर रात 8.45 बजे वापस पहुंचा। कमरे से होटल मैनेजर का पुत्र रमेश निकल रहा था मुझे देखते ही बेटी रोई उसने बताया कि रमेश ने मेरे साथ गंदा काम किया है रमेश साईं शराब के नशे में कोतवाली पहुंचा उसने आरोप लगाया कि रमेश के भांजे ने धर्मशाला के कमरे से मेरा सभी सामान निकाल कर फेंक दिया है।

मैंने सामान को नौसे रिक्शा कंपनी में रखा है रामसेवक ने आरोप लगाया कि रमेश के रिश्तेदार अधिवक्ता ने मुझे राजीनामा करने के लिए धमकाया है। पुलिस ने रमेश व उसके भाई लल्ला को हिरासत में ले लिया है 60 वर्ष रमेश ने बताया कि मैं हलवाई का कार्य करता हूं 25 वर्ष पूर्व नसबंदी करा चुका हूं रात में बिजली का कटिया डालने ऊपर गया था।

धर्मशाला में बिजली का कनेक्शन नहीं है सभी लोग चोरी की बिजली जलाते हैं रमेश ने बताया कि रामसेवक ने रुपए वसूलने के लिए झूठा आरोप लगाया गया है। सायं रिश्तेदारों की पैरवी में अधिवक्ता भी कोतवाली पहुंचे।

युवती ने ससुराल वालों को पति की हत्या में फसाया

कोतवाली फर्रुखाबाद पुलिस ने अदालत के आदेश पर मोहल्ला घोड़ा नखास निवासी स्वर्गीय अतुल की पत्नी शिवनंदनी की ओर से ग्राम सातनपुर निवासी उत्पल, राजरानी सुनील एवं उसकी पत्नी मीना, सीटू एवं उसकी पत्नी संध्या के विरुद्ध हत्या की रिपोर्ट दर्ज की है। शिव नंदिनी का सामूहिक समारोह में विवाह वर्ष 1918 में विवाह हुआ था विवाह के बाद आरोपियों ने दहेज में एक लाख रुपये व बाइक के लिए प्रताड़ित किया और उसे घर से निकाल दिया था।

शिवनंदनी को 11 जुलाई को पता चला कि पति सैफई अस्पताल में भर्ती हैं तो ससुराल वालों ने उसे अतुल से नहीं मिलने दिया और झगड़ा करने पर उतारू हो गए। किसी तरह शिव नंदिनी ने पति से भेंट की तो अतुल ने बताया कि जायदाद की रंजिश में परिवार वालों ने जहर दिया है और अपने बचाव में यहां लेकर आए हैं।

About Author

Related Articles