आवश्यक सूचना * एफबीडी न्यूज के पाठकों सूचित किया जाता है कि यदि उनकों किसी भी समाचार के सम्बंध में कोई आपत्ति अथवा सुझाव हो तो वह फोन नम्बर- 9415167404 व 8840944487 पर तुरंत ही दर्ज कराये अथवा fbdanandbhan@gmail.com पर मेल करे। *     *कायमगंज नगर क्षेत्र की खबरों व विज्ञापनों के लिए अनुराग सिंह गंगवार से संपर्क करें. फोन नंबर 6386 6056 20*






सेंट्रल जेल में 2 मोबाइल फोन सहित लखनऊ का शातिर इमरान गिरफ्तार : पत्रकार की कार हादसे में 2 साथी घायल

 

फर्रूखाबाद। कोतवाली फतेहगढ़ पुलिस ने सेंट्रल जेल में अवैध रूप से 2 मोबाइल फोन रखने वाले लखनऊ के शातिर अपराधी इमरान को गिरफ्तार कर लिया। सेंट्रल जेल के जेलर संजय कुमार ने लखनऊ कैंट नई बस्ती सदर मकान नम्बर 561 निवासी सलीम उर्फ इमरान पुत्र शाह वसीम के विरूद्ध रिपोर्ट दर्ज कराई। सिद्धदोष विचाराधीन बंदी इमरान सेंट्रल जेल की बैरिक नम्बर द्वितीय की कठोरी नम्बर 3 में बंद था। 1 फरवरी की शाम बैरिक बंद करते समय जेल कर्मचारियों ने कैदियों की तलाशी ली तो इमरान के पास एक इन्ड्रायड व एक कीपेड फोन बरामद हुआ। इस दौरान जेल सुरेशचन्द्र, संजय कुमार सिंह, जेल वार्डर टीकेश्वर चौहान, हैड जेल वार्डर मनोरत पाल, जेल वार्डर त्रिपुरेश मिश्रा, उप जेलर चन्द्रप्रताप गिरि मौजूद थे।

पत्रकार की कार हादसे में 2 साथी घायल

हादसे में कोतवाली फतेहगढ़ के ग्राम याकूतगंज निवासी निखिल कटियार पुत्र अवनीश व सत्यम वर्मा पुत्र नरेशचन्द्र घायल हो गये। ग्राम धनसुआ निवासी पत्रकार अभिषेक कटियार पुत्र राजेन्द्र सिंह ने बुलैरों नम्बर यूपी 32बीएल/9800 के चालक के विरूद्ध रिपोर्ट दर्ज कराई। अभिषेक का ड्राइवर कोतवाली मोहम्मदाबाद के ग्राम सीलमपुर नगला बाग निवासी अंकित कुमार दीक्षित, अभिषेक की स्वीप्ट डिजायर कार में निखिल एवं सत्यम को बिठाकर महरूपुर स्थित गेस्ट हाउस से बीती मध्यरात वापस जा रहे थे।

रास्ते में एसआर कोल्ड स्टोरेज के पास नशेडी चालक ने गलत दिशा से आकर स्वीप्ट डिजायर में जोरदार टक्कर मार दी। हादसे में दोनों सवार गम्भीर रूप से घायल हो गये और दोनो वाहन भी बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गये। सेंट्रल जेल पुलिस चौकी ने क्षतिग्रस्त वाहनों को कब्जे में ले लिया। घायलों को सिटी अस्पताल के आईसीयू में भर्ती कराया गया। अभिषेक ने बताया कि हादसे के बाद टक्कर मारने वाली बुलैरों की नम्बर प्लेट गायब कर दी गई। लेकिन मैने पहले ही नम्बर नोट करवा लिया था।