शिक्षक ने पत्रकार को मार डालने के लिये धमकाया : बालक का हत्यारा चाचा गिरफ्तार, युवती जेबरात लेकर गायब

फर्रूखाबाद।(एफबीडी न्यूज) पत्रकार राजीव शुक्ला को शिक्षक ने जान से मार डालने के लिये धमकाया है। कोतवाली मोहम्मदाबाद के मोहल्ला शिवाजी नगर निवासी राजीव शुक्ला ने रिपोर्ट दर्ज कराने के लिये जिलाधिकारी को शिकायती पत्र भेजा है। शिकायत के मुताबिक दैनिक गुनाह का सच अखबार के सम्वादाता राजीव शुक्ला 25 सितम्बर को दोपहर के समय ग्राम सिरौली खेडा स्थित प्राथमिक विद्यालय के पास बने सामूदायिक केन्द्र का कबरेज करने गये थे। उसी समय विद्यालय में तैनात गांव के शिक्षक हरिओम पांडेय वहां पहुंच गये।

जिन्होने पत्रकार राजीव शुक्ला को गालियां दी। राजीव ने बताया कि सामूदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में जबरन भूसा भरा गया है। इस घटना को उजागर करना मेरी जिम्मेदारी है। तभी हरिओम ने गाली देते हुये राजीव से कहा कि बहुत बडा पत्रकार बनता है, यदि यह खबर अखबार में छापी तो तुझे जान से मार डालूंगा। मैने ही सामूदायिक केन्द्र में भूसा भरवाया है। हरिओम की गांव के ही स्कूल में तैनाती है जिसके कारण वह अक्सर गांव वालों के साथ झगडा करता है।

बालक का हत्यारा चाचा गिरफ्तार

बालक के हत्यारे चाचा हरेन्द्र यादव को थाना मेरापुर पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। चालान किये जाने पर अदालत ने आरोपी को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया। मेरापुर थानाध्यक्ष धवेन्द्र कुमार ने बताया उपनिरीक्षक सुहेल खान, सिपाही अखिलेश कुमार जादौन, संजीव कुमार व विवेक कुमार के सहयोग से घेराबंदी करके ग्राम दहेलिया निवासी हरेन्द्र यादव को उनासी चौराहे से गिरफ्तार किया। हरेन्द्र ने पुलिस के सामने स्वीकार किया कि मेरे अविवाहित बडे भाई हरीशचन्द्र चचेरे भाई धर्मेश कुमार के साथ रहने लगे थे। मुझे पता चला कि चाचा हरीश अपने सारे हिस्से की जायदाद धर्मेश के बेटे रितिक के नाम कर देगे। इसी लिये मैने मुंह व नाक दबाकर रितिक की हत्या कर दी थी। मालुम हो कि बीते दिनों 4 वर्षीय रितिक घर से गायब हो गया था, उसका शव सांय गांव के ही बबलू के मकान की दीवार के पास पडा मिला था।

युवती जेबरात लेकर गायब

थाना मऊदरवाजा के मोहल्ला सुभाष नगर बजरिया मैदान निवासी रामबाबू बाथम की पत्नी शशि ने घर से जेबरात व नकदी चोरी के मामले में सुभाष नगर निकट ठेकी निवासी वारिस खां एवं शानाबाबू पुत्र नसीम के विरूद्ध रिपोर्ट दर्ज कराई। शशि की बहू की 24 सितम्बर को बढपुर के प्राइवेट अस्पताल में डिलेवरी हुई थी। घर में शशि की 17 वर्षीय पुत्री गुंजन अकेली थी। जब शशि का पुत्र रवि शाम 4 बजे अस्पताल से घर खाना लेने गया, तो उस समय घर के दरवाजे खुले थे। घर पर गुंजन नही थी, कमरे के बक्शों के ताले टूटे थे। तब शशि ने घर जाकर जांच पडताल की तो पता चला गुंजन बक्शे से 30 हजार रूपये, सोने की 2 अंगूठी, चैन, नथुनी, पायले ले गई। गुंजन के अलमारी के कपडों में वारिस खां का मोबाइल नम्बर सहित कार्ड मिला, शाना बाबू वारिस का दोस्त है। शाना बाबू का अक्सर घर आना जाना था। शशि ने जब शाना बाबू से गुंजन के बारे में पूछा तो वह गाली गलौज कर मारपीट पर अमादा हो गया।

अपराधियों पर गैंगेस्टर

थाना मऊदरवाजा के इंस्पेक्टर जयप्रकाश शर्मा ने 4 शातिर अपराधियों के विरूद्ध गैंगेस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई की है। जिनमे हैवतपुर गढिया काशीराम कालोनी 4/59 निवासी गगन दुबे पुत्र अनिल, 61/969 निवासी रिषभ पुत्र उमाकांत, 65/1038 निवासी शिवम उर्फ छुआरा पुत्र भैयालाल एवं 75/1192 निवासी सागर गुप्ता पुत्र स्व0 विनय कुमार शामिल है।

फर्रूखाबाद।(एफबीडी न्यूज)