डॉक्टर सुबोध यादव उमेश यादव पर सांसद के भतीजे पर जानलेवा फायरिंग व अपहरण के प्रयास का केस दर्ज

डॉक्टर सुबोध यादव उमेश यादव पर सांसद के भतीजे पर जानलेवा फायरिंग व अपहरण के प्रयास का केस दर्ज

फर्रुखाबाद। (एफबीडी न्यूज़) जिला पंचायत अध्यक्ष पद के प्रत्याशी डॉक्टर सुबोध यादव व उनके करीबी पूर्व जिला पंचायत सदस्य उमेश यादव एडवोकेट मुसीबत में फंस गए हैं। भाजपा सांसद मुकेश राजपूत के भतीजे राहुल राजपूत ने डॉ सुबोध यादव उमेश यादव के एवं 14-15 अज्ञात लोगों के विरुद्ध अपहरण के प्रयास व जान लेवा फायरिंग की रिपोर्ट दर्ज कराई है।

सांसद मुकेश राजपूत ने परसों खुदागंज निवासी पार्टी कार्यकर्ता नवल पाल को किसी जरुरी कार्य से बुलाने के लिए भतीजे राहुल राजपूत को भेजा था। सांसद मुकेश राजपूत ने नवल को लाने के लिए अपनी सफारी स्टोर्म व गनर विकास शाक्य को साथ भेजा था। ड्राइवर आलोक कुमार गाड़ी चला रहा था जब गाड़ी कमालगंज के आगे रामलीला मैदान के पास से गुजर रही थी।

तभी वहां पहले से घात लगाए चार पांच गाड़ियों से सुबोध यादव उमेश यादव 14- 15 अज्ञात असलाधारी लोगों के साथ गाड़ियों से उतरे। राहुल ने बिजली व गाड़ियों की रोशनी में उन्हें अच्छी तरह देखा और सामने आने पर पहचान सकते हैं। जैसे ही राहुल अपनी गाड़ी से नीचे उतरे उन लोगों ने गाड़ी में सांसद मुकेश राजपूत को समझकर सांसद को गालियां देते हुए अभद्र भाषा का प्रयोग करते हुए कहा बहुत खिलाफत करता है।

लेकिन जैसे ही उन्होंने सांसद के बदले भतीजे राहुल को देखा तो पकड़ कर जान से मारने की नियत से खींचकर अपनी गाड़ी में डालने का प्रयास किया। उसी समय राहुल को बचाने गनर गाड़ी से नीचे उतरा, गनर को देखकर सुबोध यादव उमेश यादव व उनके साथियों ने राहुल पर जान से मारने की नियत से फायर किए। तभी ड्राइवर ने गाड़ी मोड़ कार भगा दी राहुल राजपूत भागकर गाड़ी में बैठ गए और किसी तरह अपनी जान बचाई।

रिपोर्ट में राहुल ने कहा है कि मेरे ताऊ सांसद मुकेश राजपूत पंचायत चुनाव के संयोजक होने के कारण सुबोध यादव उनसे व हमारे परिवार के लोगों से रंजिश मानते हैं सांसद के पूरे परिवार को जान माल का पूरा खतरा है। घटना के बाद कोतवाली फर्रुखाबाद के मोहल्ला चौबदारान निवासी राहुल राजपूत फर्रुखाबाद सांसद के आवास पर गए और उन्हें पूरी घटना से अवगत कराया।

राहुल ने बीती शाम रिपोर्ट दर्ज कराने के लिए तहरीर दी थी। कमालगंज के इंस्पेक्टर राकेश कुमार ने बताया कि सुबोध यादव उमेश यादव व 14-15 लोगों के विरुद्ध सांसद के भतीजे राहुल राजपूत पर जानलेवा फायरिंग व अपहरण के प्रयास का मुकदमा दर्ज किया गया है मुकदमे की जांच अभय प्रताप सिंह कर रहे हैं।

सपा ने नगर अध्यक्ष को पद से हटाया

नवाबगंज के नगर अध्यक्ष विपिन पाल संगठन के कार्यों में रुचि नहीं ले रहे थे। सपा के जिला महासचिव मंदीप यादव एडवोकेट ने जिला अध्यक्ष नदीम अहमद फारुकी के निर्देश पर विपिन पाल को निष्क्रियता के आरोप में तत्काल प्रभाव से नगर अध्यक्ष नवाबगंज पद से मुक्त कर दिया है। बताया गया है कि विपिन पाल सपा के पूर्व मंत्री नरेंद्र सिंह यादव के समर्थक हैं।

विपिन पार्टी के जिला पंचायत अध्यक्ष पद के प्रत्याशी डॉ सुबोध यादव के विरुद्ध प्रचार कर रहे थे।

Categories: Breaking News

About Author

Related Articles